रेलवे के टिकट कलेक्टर्स को मिले जुर्माना वसूलने के ‘हाई टारगेट्स’

October 12, 2017, 11:29 AM
Share

पश्चिम रेलवे में टिकट जांच करने वाले संग्राहकों का आरोप है कि बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों से जुर्माना वसूलने के संबंध में उन्हें ‘अव्यावहारिक’ लक्ष्य दिये जा रहे हैं.

मुंबई: पश्चिम रेलवे में टिकट जांच करने वाले संग्राहकों का

आरोप है कि बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों से जुर्माना वसूलने के संबंध में उन्हें ‘अव्यावहारिक’ लक्ष्य दिये जा रहे हैं. साथ ही इसे पूरा नहीं करने पर सुपरवाइजर उनपर कार्रवाई कर रहे हैं. पश्चिम रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि बिना टिकट यात्रा करने वालों की संख्या में वृद्धि की जानकारी मिलने पर लक्ष्य की समीक्षा करना सामान्य बात है.

टिकट संग्राहकों का प्रतिनिधित्व करने वाले मंच का कहना है कि इससे कर्मचारियों का नैतिक मनोबल गिरता है. पहचान गुप्त रखने के आधार पर एक टिकट संग्राहक ने कहा कि इस साल अप्रैल में लक्ष्य की समीक्षा की गई. उनका दावा है कि भीड़-भाड़ वाले समय में मेल या एक्सप्रेस ट्रेन से एक संग्राहक को बिना टिकट यात्रा करने वालों से प्रतिदिन जुर्माने के रूप में 8000 रुपये वसूलने हैं. वहीं, अन्य घंटों में यह राशि 6000 रुपये होगी. उनका दावा है कि लोकल ट्रेनों में ड्यूटी करने वाले संग्राहकों को 4000 रुपये प्रतिदिन जुर्माना वसूलना है.

Source – NDTV

Share

This entry was posted in Railway Employee, Railway Employee