Aug 11, 2013

रेलवे आज चलाएगा दिल्ली के लिए स्पेशल ट्रेन


जागरण संवाददाता, लखनऊ : रेल प्रशासन ने ईद के मद्देनजर ट्रेनों में भीड़ को देखते हुए लखनऊ से दिल्ली व दिल्ली से लखनऊ के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय किया है। ट्रेन में यात्रियों की सुविधा के लिए वातानुकूलित, स्लीपर व जनरल कोच लगाए जाएंगे। 11 अगस्त को लखनऊ से दिल्ली जाने वाली ट्रेन की फीडिंग कंप्यूटर में कर दी गई है। इसी तरह रेल प्रशासन 14 अगस्त को दिल्ली से लखनऊ के लिए चलने वाली ट्रेन की फीडिंग जल्द ही करेगा। इससे उन यात्रियों को फायदा मिलेगा जिन्हें अभी कंफर्म टिकट नहीं मिल रहे हैं।

उत्तर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक ट्रेन संख्या 04209 बनारस से दोपहर 3.15 पर चलेगी जो जंघई, प्रतापगढ़, अमेठी होते हुए लखनऊ रात 10.35 पर आएगी। यहां से बरेली, मुरादाबाद होते हुए दिल्ली दूसरे दिन सुबह 10.10 बजे पहुंचेगी। ट्रेन में यात्रियों की सुविधा के लिए चौदह कोच लगाए गए हैं। इसी तरह वापसी में नई दिल्ली से लखनऊ के लिए ट्रेन 14 अगस्त को चलेगी। रेल प्रशासन ने ट्रेन संख्या अभी घोषित नहीं की है। अफसरों के मुताबिक दो दिन पहले ट्रेन नंबर घोषित किया जाएगा और उसी दौरान कंप्यूटरों में फीडिंग भी होगी। पंद्रह कोच वाली ट्रेन नई दिल्ली से शाम 7.30 बजे चलेगी जो लखनऊ दूसरे दिन सुबह 4.45 पर आएगी। ट्रेन में वातानुकूलित कोचों के अलावा स्लीपर श्रेणी के कोच भी होंगे।

बाक्स

एक छुट्टी लेकर मनाएंगे चार छुट्टी


रेल प्रशासन के मुताबिक 15 अगस्त (गुरुवार) को छुट्टी है। ऐसे में कई लोग शुक्रवार को अवकाश लेकर चार दिन छुट्टी मनाएंगे। अमूमन केंद्रीय कार्यालय व कई मल्टी नेशनल कंपनियां शनिवार व रविवार को बंदी रहती हैं। रेल प्रशासन के मुताबिक दिल्ली से लखनऊ जाने वाले यात्रियों का ग्राफ गुरुवार को ज्यादा है। इसलिए स्पेशल ट्रेन घोषित की गई है। इसी तरह 18 अगस्त को भीड़ रहने पर ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाए जाएंगे।
SOURCE.. JAGRAN

दो मिनट का 'ठहराव' एक साल से फाइलों में कैद



नवीन गौतम, गुड़गांव : बीकानेर इंटर सिटी एक्सप्रेस को दो मिनट के लिए गुड़गांव में रोकने का फैसला एक साल से दो जोन के बीच उलझा हुआ है। रेल मंत्रालय ने यह मामला उत्तर रेलवे के हवाले किया तो उसने जवाब दिया कि यह मामला उत्तर पश्चिम रेलवे से जुड़ा है। वहीं उत्तर पश्चिम रेलवे का कहना है कि यह मामला उत्तर रेलवे से जुड़ा है। नतीजा, इस गाड़ी का ठहराव यहां न होने से यात्री परेशान हैं और रेलवे को प्रतिदिन करीब डेढ़ लाख रुपये का नुकसान हो रहा है।
दिल्ली-बीकानेर के बीच चलने वाली इंटर सिटी एक्सप्रेस का गुड़गांव में ठहराव किए जाने की मांग लम्बे अर्से से चल रही है। गुड़गांव सेक्टर चार रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के उपाध्यक्ष एसके शर्मा ने इसी वर्ष फरवरी में सूचना के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए रेल मंत्रालय से जानकारी मांगी कि इंटर सिटी एक्सप्रेस का ठहराव किसने करना है और कब तक करना है। रेल मंत्रालय ने उनके आवेदन को उत्तर रेलवे के हवाले कर दिया, लेकिन उत्तर रेलवे ने यह कहकर जानकारी देने से इंकार कर दिया कि यह मामला उत्तर पश्चिम रेलवे से जुड़ा है। उत्तर पश्चिम रेलवे ने वापस यह मामला उत्तर रेलवे के पाले में यह कहते हुए डाल दिया कि यह मामला हम से नहीं जुड़ा है, पिछले छह माह से यह मामला यूं ही रेल मंत्रालय से लेकर उत्तर रेलवे और उत्तर पश्चिम रेलवे के मध्य झूल रहा है।
इतना ही नहीं दैनिक यात्रियों की पहल पर जून 2012 में इस रेलगाड़ी के गुड़गांव में ठहराव को लेकर डीआरएम बीकानेर ने उत्तर पश्चिम रेलवे के मैनेजर को पत्र लिखा, जिसे उत्तर पश्चिम रेलवे ने उत्तर रेलवे भेजने में ही छह माह का समय लगाया। वहीं उत्तर रेलवे ने इसे रेलवे बोर्ड भेजने में तीन माह का वक्त लगा दिया। विडंबना यह है कि भारतीय रेल की रफ्तार से धीमे चल रहे इस पत्र पर भी रेलवे बोर्ड कोई फैसला नहीं कर पाया है।
यह रेलवे अधिकारियों की लापरवाही का नतीजा है कि इस बीकानेर इंटर सिटी एक्सप्रेस में प्रतिदिन दोनों तरफ से 3 टीयर में ढाई सौ के करीब सीटें खाली रहती हैं और औसतन करीब डेढ़ लाख रुपये राजस्व का नुकसान रेलवे को उठाना पड़ता है, जो सालाना करीब दस करोड़ रुपये के आसपास बैठता है। हैरानी की बात यह है कि वापसी में रेवाड़ी में इस रेल गाड़ी को पूरे आधे घंटे तक रोक कर रखा जाता है।
ये गाड़ियां रुकती हैं गुड़गांव
- दिल्ली-अहमदाबाद राजधानी एक्सप्रेस
- अजमेर शताब्दी एक्सप्रेस
- पूजा एक्सप्रेस
- जोधपुर मंडोर एक्सप्रेस
- दिल्ली-जयपुर वातानुकूलित डबर डेकर एक्सप्रेस
- चंडीगढ़ बांद्रा एक्सप्रेस
- मुंबई गरीब रथ
जागरण सुझाव
- गुड़गांव में बीकानेर इंटर सिटी एक्सप्रेस को दोनो दिशाओं से ठहराव प्रदान किया जाए।
- इसमें वातानुकूलित डिब्बों की तादाद बढ़ाई जाए।
- खाली चल रहे 3 टीयर के डिब्बों में से चार जनरल श्रेणी में शामिल किए जाएं।
ये होंगे लाभांवित
- दिल्ली-गुड़गांव के बीच प्रतिदिन करीब दो हजार लोग यात्रा करते हैं।
- बीकानेर की तरफ से इस रेल से गुड़गांव आने की चाहत रखने वाले करीब ढाई हजार लोगों को प्रतिदिन रेवाड़ी या दिल्ली कैंट पर नहीं उतरना पड़ेगा।
- इस रेल में प्रतिदिन खाली चल रही ढाई सौ के आसपास सीटें भरकर चलेंगी।
- रेलवे को प्रतिदिन करीब डेढ़ लाख रुपये अतिरिक्त मिलेंगे।
SOURCE .. JAGRAN

Tripura to train youth volunteers in disaster management



AGARTALA: The Tripura government has decided to train 20 youth volunteers each in every village under 1,038 panchayats and 600 village councils in autonomous district councils in disaster management techniques.

State Disaster Management Authority secretary Swapan Saha said the decision was taken after completion of vulnerability mapping of the resources of Tripura and the latest assessment of geo-environmental status of the state.

"Since Tripura is in Zone V (high intensity earthquake) and is also prone to landslides, floods and cyclones, we are giving highest priority to retrofitting of old infrastructure and disaster mitigation strategies along with mass awareness campaigns," said Saha.

He added that as many as 2500 villagers were already trained in disaster management techniques besides 48 dedicated jawans from each of the nine battalions of Tripura State Rifles, policemen, fire service crew, teachers and students.

Referring to the death of three persons in Jogendranagar of Agaratala on Wednesday, Saha said the rescue operation was quite satisfactory and quick.

The causality was very less despite the collapse of a big building in incessant rain.

He, however, pointed out that the state government had announced a relief of Rs 1.5 lakh each to the next the kin of the deceased and the government would also bear all medical expenses of the injured.

National Disaster Management Authority (NDMA) is all set to shift a battalion of the elite National Disaster Response Force (NDRF) for permanent deployment in Tripura.

The state government has allotted 3 acres of land to NDRF, along with 10 acres, for setting up a training institute of disaster response team where NDMA will provide a fund of Rs 63 lakh for training at the Central Training Institute in Tripura.

The Tripura government is trying to strengthen its act together by taking steps on disaster management in the wake of warnings by experts on natural calamities, Saha said.

State pollution control board officials have asked the administration to take stringent steps against deforestation in the catchments of the rivers and stop lifting of excess amount of water from the rivers.
Source  .. TIMES OF INDIA

कटनी रूट पर हुए हादसे से रेलवे को एक झटका में 50 करोड़ का नुकसान

कटनी रूट पर हुए हादसे से रेलवे को एक झटका में 50 करोड़ का नुकसान
बिलासपुर। कटनी रूट पर हुए रेल हादसे के कारण रेल प्रशासन को एक झटके में 30 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हो गया। रेल प्रशासन नुकसान का आंकलन करने में जुटा है और प्रारंभिक आंकलन में आंकड़ा 30 करोड़ रुपए के पार पहुंच रहा है। सुधार कार्य की लागत को जोडऩे से यह आंकड़ा 50 करोड़ रुपए के पार होगा।
7 अगस्त की शाम कटनी रूट पर सारबहरा स्टेशन के करीब एक मालगाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हुई थी। इसके चलते इस रूट पर 44 घंटे तक रेल यातायात ठप रहा, वहीं 2 लाइट इंजन और 28 वैगन पटरी से उतरकर बुरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो गए। शुक्रवार को रेल यातायात बहाल होने के बाद रेल प्रशासन यह जानकारी जुटा रहा है कि आखिर हादसे से नुकसान कितने का हुआ? यह काम अभी अधूरा है, लेकिन प्रारंभिक आंकलन के मुताबिक नुकसान का आंकड़ा 30 करोड़ रुपए के पार पहुंच चुका है।
नुकसान को ऐसे समझा जा सकता है कि हादसे में 28 वैगन व 2 लाइट इंजन पटरी से उतरे थे। इसमें से 10 वैगन एक दूसरे से इस तरह टकराए कि इन्हें काटकर अलग करना पड़ा। ये वैगन अब लोहे के टुकड़ों में तब्दील हो गए हैं। इसी तरह दोनों लाइट इंजन पटरी से बीस फीट दूर जाकर जमीन में धंस गए। इंजन पूरी तरह बेकार तो नहीं हुए, लेकिन इन्हें बाहर निकालना मुश्किल है। दो इंजनों की कीमत 7 करोड़ रुपए है। 18 वैगन क्षतिग्रस्त हुए हैं, लेकिन सुधार के बाद इनका उपयोग संभव है। एक वैगन की कीमत 25 लाख रुपए है, इस हिसाब से 10 वैगनों के चकनाचूर होने से 2.50 करोड़ रुपए का नुकसान हो गया। इसी तरह क्षतिग्रस्त 18 वैगनों में 12 लाख रुपए के औसत से 2.16 करोड़ रुपए की हानि का अनुमान है।
रेल प्रशासन को सबसे बड़ा नुकसान रेल यातायात के 44 घंटे ठप रहने से हुआ है। इस दौरान माल और यात्री परिवहन ठप रहने से कम से कम 10 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। इस तरह यह आंकड़ा 30 करोड़ रुपए पहुंच गया है। इसमें सुधार कार्य पर हुए खर्च को शामिल करने पर रेल प्रशासन को एक झटके में 50 करोड़ रुपए से ज्यादा की नुकसान हो गया। 
तीसरे दिन भी प्रभावित रहीं ट्रेनें
रेल हादसे के चलते यात्री ट्रेनें लगातार तीसरे दिन भी प्रभावित रहीं। लखनऊ से दुर्ग आने वाली गरीबरथ, अमृतसर से विशाखापट्नम जाने वाली हीराकुंड, भोपाल से दुर्ग आने वाली अमरकंटक, जम्मूतवी से दुर्ग आने वाली जम्मूतवी और हरिद्वार से पुरी जाने वाली उत्कल एक्सप्रेस को बीच के स्टेशनों में कंट्रोल करते हुए लाया गया। इसके चलते ट्रेनें 4 से 7 घंटे तक लेट होकर बिलासपुर पहुंची। इसके अलावा बिलासपुर से कटनी के बीच चलने वाली मेमू लोकल को शहडोल में रद्द किया गया। बिलासपुर से इंदौर जाने वाली नर्मदा एक्सप्रेस को भी रद्द कर दिया गया।

आज अमरकंटक, कल नर्मदा एक्सप्रेस नहीं आएगी
रूट के खुलने में हुई देरी के कारण गुरुवार को ऐन वक्त पर दुर्ग-भोपाल अमरकंटक एक्सप्रेस को रद्द किया गया। इसके चलते भोपाल में रैक की कमी हुई और शुक्रवार को भोपाल से दुर्ग के लिए रवाना होने वाली ट्रेन को रद्द करना पड़ा। इस तरह अमरकंटक एक्सप्रेस शनिवार की सुबह बिलासपुर नहीं आएगी। बिलासपुर से इंदौर जाने वाली नर्मदा एक्सप्रेस शुक्रवार को रद्द रही। इसके चलते इंदौर में शनिवार को रैक की कमी रहेगी। नतीजतन नर्मदा एक्सप्रेस शनिवार को इंदौर से रवाना नहीं होगी। यानी रविवार को कटनी से बिलासपुर के बीच इस ट्रेन की सुविधा नहीं मिलेगी।
Source .. bhaskar

पुलिस की सतर्कता से टली ट्रेन हादसा


नि.प्र.सिलाव (नालंदा): नालंदा पुलिस की सतर्कता से एक बड़ा ट्रेन हादसा टल गया। इस संबंध में थाना अध्यक्ष राजनंदन ने बताया कि गश्ती के दौरान साढ़े ग्यारह बज माहुरी गेट के निकट कुछ लोगों द्वारा 15 फीट का एक ट्रैक पोल पटरी पर खिंचा जा रहा था। इसी क्रम में गश्ती दल का वाहन वहां से गुजर रहा था। ट्रैक पर रात में गतिविधि की आहट मिलते हीं गश्ती दल के जवान वहीं पर रूक गए। पुलिस की गाड़ी रूकते देख ट्रैक पर गड़बड़ कर रहे लोग वहां से नौ दो ग्यारह होने लगे। पुलिस ने उनका पीछा किया और अंतत: भाग रहे लोगों में से एक व्यक्ति दीपक कुमार को पकड़ लिया। पूछने पर गिरफ्तार दीपक कुमार ने बताया कि आईओडब्लू द्वारा नियुक्त ठीकेदार अनुरोध यादव के कहने पर आठ दस मजदूरों के साथ रस्सी गमछा के माध्यम से लोहे की पोल को ट्रैक पर खींच रहे थे। पुलिस को देखकर वे लोग पोल को ट्रैक पर छोड़कर भागने लगे। बाद में स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने पोल को ट्रैक पर से हटाया। इस संबंध में पूछने पर नालंदा स्टेशन प्रबंधक राजीव कुमार ने बताया कि राज 11.16 बजे डीएमयू ट्रेन राजगीर से खुली थी। जिसे 11.35 बजे नालंदा स्टेशन पर पहुंचना था यदि समय रहते ट्रैक पर से लाईन को नहीं हटाया जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था। मौके पर पहुंचे बख्तियारपुर रेल थाना के उप निरीक्षक आर.ए प्रसाद ने बताया कि इस संबंध में एफआईर दर्ज कर ली गई है। गिरफ्तार व्यक्ति को जेल भेजा जा रहा है। अन्य दोषी व्यक्तियों की तलाश शूरू कर दी गई है। रेल पुलिस भी मामले की तहकीकात में जुटी है।
SOURCE.jagran

मेट्रो से 8 अगस्त को 25 लाख लोगों ने किया सफर


जागरण संवाददाता, नई दिल्ली : राजधानी की लाइफ लाइन कही जाने वाली दिल्ली मेट्रो की लोकप्रियता दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। साफ-सफाई और बेहतरीन प्रशासनिक व्यवस्था के कारण तो मेट्रो अन्य विभागों में चर्चा का विषय बनी ही रहती है, यात्रियों की संख्या में भी मेट्रो आए दिन नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है। आठ अगस्त को मेट्रो में सफर करने वाले यात्रियों की संख्या 25 लाख के आंकड़े को पार कर गई। मेट्रो में सफर करने वालों की यह अबतक की सबसे अधिक संख्या है। यात्रियों की बढ़ी संख्या से मेट्रो प्रशासन काफी खुश है। इससे पहले 29 जुलाई 2013 को यात्रियों की संख्या 24,25,897 थी।

दिल्ली मेट्रो के प्रवक्ता अनुज दयाल ने बताया कि आठ अगस्त को दिल्ली मेट्रो में कुल 25,04,900 यात्रियों ने सफर किया। इस दिन सबसे ज्यादा सफर द्वारका सेक्टर-21 से नोएडा सिटी सेंटर और वैशाली लाइन पर लोगों ने यात्रा की। दिलशाद गार्डन से रिठाला लाइन-1 पर 3 लाख 60 हजार 512 यात्रियों ने सफर किया, लाइन-2 जहांगीरपुरी से हुडा सिटी सेंटर पर 8,87,003, लाइन-3-4 द्वारका सेक्टर-21 से नोएडा सिटी सेंटर, वैशाली पर 9,81,252, लाइन-5 इंद्रलोक व कीर्तिनगर से मुंडका के बीच 90,669 और लाइन-6 केंद्रीय सचिवालय से बदरपुर के बीच चलने वाली मेट्रो ट्रेन से 1,85,464 लोगों ने सफर किया। उक्त तिथि को एयरपोर्ट मेट्रो लाइन पर भी यात्रियों की संख्या 10,500 से बढ़कर 12,500 हो गई।
Source .. jagran

Indian Railways to introduce water purifiers in passenger coaches



NEW DELHI: In an effort to spruce up passenger amenities, Indian Railways has decided to install water-purifiers in coaches to improve the quality of drinking water and hygiene in trains.

"The first coach with water purifier facility is being readied at the Jagadhri railway workshop in Jalandhar and it will soon be part of a long-distance express train as a pilot project," said a senior Railway ministry official.

"Trains get its water supply from stations and because of the prevalence of iron impurities in certain areas, quality of water also gets affected," he said.

Currently, luxury trains are being equipped with water purifiers. Pantry cars of many trains including in Rajdhani and Shatabdi already have water-purifiers.

"Our aim is to provide clean water in trains and we are beginning with the facility in LHB coach first and later on conventional coaches will also be equipped with water purifiers," the official said.

Besides, in view to improve the standards of cleanliness and hygiene in coaches, On-Board Housekeeping Services (OBHS) scheme has been introduced in all Rajdhani, Shatabdi, Duronto and important long distance Mail/Express trains.

Under the scheme, a set of housekeeping staff travels on-board and ensures cleanliness in compartments and toilets.

Railways has also decided to allot two berths in each train for OBHS who have been entrusted with the job to maintain cleanliness in trains.
Source .. Times Of India

 

NEXT POST

EMPLOYEE NEWS CENTER

READ MORE -

Rail News - Public service (4210) Rail News - Public service (3470) Rail News - Rail Employee (2318) DIVISION - JABALPUR (357) Rail News - Rail Development (315) News - Spl Train (262) News - General (225) DIVISION - BHOPAL (202) Rail News - Job - Career (200) Rail news - Metro (193) Rail News - Circulars (138) DIVISION - HUBLI (128) DIVISION - MORADABAD (122) Office Order (105) DIVISION - ALLAHABAD (93) World Rail News (85) Rail news - Public Alert (79) News - Loco Pilot (73) Rail News - Rail Budget (69) HIGH SPEED RAIL (68) Rail News - 7th Pay Commission (62) Rail News - New Train (61) Improvement in Facilities (58) Rail News - Railway Safety (58) Accidents (55) Rail Development (54) Rail news - World Rail (49) Rail News - Tourism (38) News- Railway Exam Result (35) Rail News - Freight Services (35) DIVISION - Delhi (34) Public Interest (32) Rail News - Sports (32) Trade Union (32) Award (30) Bonus (PLB) (30) PIB (29) Bullet train (28) new line (26) IRCTC (25) News - Dearness Allowance (24) Station Master (23) TATKAL TICKET (22) RPF / RPSF (21) Railway News - Metro (20) Complaint and Suggestions (19) Rail News - Security (19) News - Catering (18) News - Job - Career (18) Mumbai local (17) Railway Pensioners (17) Railway time table (17) News - New Tech (16) News - Railway Employee (16) ‘Premium’ Special Trains (15) Circulars - Govt of India (14) Rail News - Railway Revenue (14) Rail news - Employment Notification (14) Railway News - Delhi Metro (14) Know About (13) Rail News - Special Train (13) Scam (13) Railway Board (12) Railway Joke (12) Catering Related Complaints (11) DIVISION - RAIPUR (11) Freight Corridor (11) Rail News - Security (11) Dedicated Freight Corridors (10) AISMA (9) Rail News - New Rail Line (9) Budget (8) DIVISION - Ambala (8) Employee News (8) News - Exam Result (8) PHOTO (8) Passenger Amenities (8) Premium Air-Conditioned (8) Railway pass (8) World Rail - China (8) fares hikes (8) semi-high speed (8) INCOME TAX (7) Indian Railway History (7) Night Duty Allowance (7) Rail Accidents (7) Rail budget (7) online tickets (7) Central Railway (6) International Railway (6) Mono Rail (6) Mumbai Metro (6) News - Budget (6) Public Grievances (6) Rail Fares (6) Railway Safety (6) Ticket Booking (6) World Rail - Japan (6) extra coaches (6) guard (6) Always Important (5) Drinking Water (5) HELP (5) Holiday Trains (5) IRCON (5) LOCOMOTIVE (5) Zone - Western Railway (5) booking counters (5) hi-tech (5) macp (5) Coaches (4) Food plazas (4) IMPORTANT RULE (4) Mumbai (4) News - Railway Rule (4) RAIL TEL (4) Rail History (4) Rail Neer (4) Rail News - Business (4) Rail News - Rules (4) Railway Minister (4) Train Cancellation (4) World Rail - Pakistan (4) Zone - South Central Railway (4) e-ticket booking (4) escalators (4) AIR - RAIL (3) Booking - Parcel (3) CCTV (3) Children Education Allowance (3) DOUBLE DECKER TRAIN (3) Electrification (3) Konkan railway (3) Medical Allowance (3) Member Engineering (3) Modal Question Paper (3) News- Railway Exam (3) PASS (3) Question Bank (3) Rail News - China (3) Rail fare hike (3) Suvidha Train (3) TRANSFER POLICY (3) VAISHNO DEVI (3) reservation (3) tatkal ticket (3) Booking - Luggage (2) D & A RULE (2) Extension of train services (2) Khumbn Mela (2) LDCE (2) Leave Rule (2) MATHERAN (2) MOBILE APPS (2) Minister of State for Railways (2) National Rail Museum (2) News - Rail Road (2) News -World Film (2) OROP (2) Passenger Reservation System (2) Police help desk (2) Provident Fund interest (2) Rail News - Goods Train (2) Railway Protection Force (2) Railway Proud (2) Railway Stations (2) Retiring Rooms (2) Revenue earnings (2) South Eastern Railway (2) Zone - East Central Railway (2) Zone - N E RLY (2) Zone - Northern Railway (2) Zone - Southern Railway (2) new pension scheme (2) ALER (1) Air Travel (1) DIVISION - CENTRAL RAILWAY (1) DIVISION - MADURAI (1) DIVISION - VIJAYWADA (1) Directory (1) Division - Rangia (1) FOOT OVER BRIDGE (1) FORMS (1) Government Railway Police (1) House Rent Allowance (1) Interesting Facts (1) JAIPUR (1) LARGESS (1) LONDON (1) Lifeline Express (1) MST (1) Measures Against Fire (1) Medical Care (1) Ministry of Railway (1) News - TV (1) Passenger Security (1) RDSO (1) Rail - Roko (1) Rail Bridges (1) Rail News - Privatization (1) Rail News - Bengali (1) Rail News - Consumer Forum (1) Rail Tariff (1) Rail Tenders (1) Rail e-tickets (1) Railway Act (1) Railway Quarter (1) Railway Week (1) Rath Yatra (1) Road over Bridges work (1) SCRA (1) SKY BUS (1) Sainagar Shirdi (1) Suburban trains (1) Swadeshi (1) TRAVELLING ALLOWANCE (1) Ticket Examiner Staff (1) Track Man (1) WhatsApp (1) World Rail - New York (1) World Rail - Russia (1) World Rail - USA (1) World Rail - Washington (1) Zone - E RLY (1) Zone - N C RLY (1) Zone - North Western Railway (1) Zone - Northeast Frontier Railway (1) Zone - S E Railway (1) fire-fighting equipment (1) mobile ticket booking (1) railway station (1) smart card (1) wagon factories (1)

7th Pay Commission & Employee News Center

Followers